हाथ जोड़ के खड़ी Hath Jod Ke Khadi Hoon Tere Dwar Lyrics in Hindi – Lyrics in Hindi

हाथ जोड़ के खड़ी हूँ तेरे द्वार मेरी माँ
हाथ जोड़ के खड़ी हूँ तेरे द्वार मेरी माँ
पूरी कर दे मुरदे एक बार मेरी माँ
तेरी कंजके बिठाऊ, पूरी हलवा खिलाऊँ
तेरी ज्योत जगाऊँ, लाल चुनरी चढ़ाऊँ

माता रानिये, ओ माता रानिये
माता रानिये, ओ माता रानिये

हाथ जोड़ के खड़ी हूँ तेरे द्वार मेरी माँ
पूरी कर दे मुरदे एक बार मेरी माँ
तेरी कंजके बिठाऊ, पूरी हलवा खिलाऊँ
तेरी ज्योत जगाऊँ, लाल चुनरी चढ़ाऊँ

लेके तेरा नाम मैंने तुझको पुकारा है
जय माता दी, जय माता दी, जय माता दी
तेरा ही भरोसा मुझ तेरा ही सहारा है
जय माता दी, जय माता दी, जय माता दी

तू है दयावान ओ माँ
तू है दयावान तू ही मेरा दुःख टालेगी
तू ही मेरी नैया मझदार से निकलेगी

तू ही मुझको उतारेगी पार मेरी माँ
तू ही मुझको उतारेगी पार मेरी माँ

पूरी कर दे मुरदे एक बार मेरी माँ
तेरी कंजके बिठाऊ, पूरी हलवा खिलाऊँ
तेरी ज्योत जगाऊँ, लाल चुनरी चढ़ाऊँ

माता रानिये, ओ माता रानिये
माता रानिये, माता रानिये

देगी मुझे लाल तू ही गोद मेरी भरेगी
जय माता दी, जय माता दी, जय माता दी
तू ही मेरे घर का अँधेरा दूर करेगी
जय माता दी, जय माता दी, जय माता दी

मुख से तो बोल ओ माँ
मुख से तो बोल मैं भी तेरी संतान हूँ
तुझे चुप देख के मैं बड़ी परेशान हूँ

देदे ममता तू दे दे दुलर मेरी
देदे ममता तू दे दे दुलर मेरी

पूरी कर दे मुरदे एक बार मेरी माँ
तेरी कंजके बिठाऊ, पूरी हलवा खिलाऊँ
तेरी ज्योत जगाऊँ, लाल चुनरी चढ़ाऊँ

माता रानिये, ओ माता रानिये
माता रानिये, ओ माता रानिये

हाथ जोड़ के खड़ी हूँ तेरे द्वार मेरी माँ
पूरी कर दे मुरदे एक बार मेरी माँ
तेरी कंजके बिठाऊ, पूरी हलवा खिलाऊँ
तेरी ज्योत जगाऊँ, लाल चुनरी चढ़ाऊँ

तेरी कंजके बिठाऊ, पूरी हलवा खिलाऊँ
तेरी ज्योत जगाऊँ, लाल चुनरी चढ़ाऊँ
तेरी कंजके बिठाऊ, पूरी हलवा खिलाऊँ
तेरी ज्योत जगाऊँ, लाल चुनरी चढ़ाऊँ

Published

Leave a comment

Your email address will not be published.