हर हर गंगे माँ भजन लिरिक्स | Har Har Gange Maa Bhajan Lyrics

हर हर गंगे माँ भजन लिरिक्स | Har Har Gange Maa Bhajan Lyrics


ता का अति पावन भजन “Har Har Gange Maa Bhajan Lyrics – हर हर गंगे माँ भजन लिरिक्स” – रश्मि योगिनी जी के द्वारा गाया गया है। इस भजन में गंगा माता की महिमा का बखान किया गया है।


Har Har Gange Maa Bhajan Lyrics

तेरी निर्मल पावन धार माँ करती सब का उधार माँ,
जो आये शरण तू उसको पार लगा देना ।
गंगा मियां तू सब की पीड़ मिटा देना ।।

श्री हरी के चरणों में था तेरा वसेरा मईयां
ब्रह्मा जी ने आज्ञा देके धरा पे उतारा मईयां ।
तेरा वेग मियां जी भारी विकराला था,
भोले ने सिर ऊपर तुम को सम्बाला था ।।

है पाप नाशनी पाँवन हमे बना देना ।
गंगा मियां तू सब की पीड़ मिटा देना ।।

भगी रथ की विनती मानी दिन वरदान माँ,
सगर जी के पुत्रो का किया कल्याण माँ ।
आठो ही वस्तुओं का तूने शाप काटा था,
पापो को ले तुमने बस प्यार बांटा था ।।

अमिरत बर्षा कर मियां सदा पीला देना ।
गंगा मियां तू सब की पीड़ मिटा देना ।।

भारत है देश मेरा ऋषियों की भूमि मियां,
राम कृष्ण अर्जुन की यही कर्म भूमि मईयां ।
आकर के सब तुझमे डुबकी लगा ते है,
रश्मी विसरियाँ भी तेरे गीत गाते है ।।

हमे अंत समय में अपनी गोद बिठा लेना ।
गंगा मियां तू सब की पीड़ मिटा देना ।।


हमें उम्मीद है की गंगा माता के भक्तो को यह आर्टिकल “हर हर गंगे माँ भजन लिरिक्स | Har Har Gange Maa Bhajan Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “Har Har Gange Maa Bhajan Lyrics” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए FreeLyrics.in पर visit करे।

Published

Leave a comment

Your email address will not be published.