मेरे शंकर सा देव नहीं दूजा रे भजन लिरिक्स

मेरे शंकर सा देव नहीं दूजा रे भजन लिरिक्स



मेरे शंकर सा देव नहीं दूजा रे,

महादेव महादेव महादेव महादेव,
महादेव महादेव महादेव महादेव,
ॐ त्र्यम्बकं यजामहे,
सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्,
उर्वारुकमिव बन्धनान,
मृत्युर्मुक्षीय माऽमृतात्,
मेरे शंकर सा देव नहीं दूजा रे,
सबसे पहले तुम्हारी पूजा रे,
मेरे शंकर सा दैव नहीं दूजा रे,
सबसे पहले तुम्हारी पूजा रे,
महादेव महादेव महादेव महादेव,
महादेव महादेव महादेव महादेव।।



मस्तक पर चंदा जटा में गंगा,

भूतों की टोली सवारी है नंदा,
बाघम्बर धारी शिव त्रिपुरारी,
महाकाल है जग के रचईया,
महादेव महादेव महादेव महादेव,
महादेव महादेव महादेव महादेव।।



सर्पों की माला गले में साजे,

डम डम डमरू शिव का बाजे,
तुम रक्षक के तेरे खेल निराले,
शिव कैलाशी है मतवाले,
महादेव महादेव महादेव महादेव,
महादेव महादेव महादेव महादेव।।



कालों के काल महाकाल राजा,

उज्जैन नगरी है धाम तुम्हारा,
कर ले सुमिरन लक्की लगन से,
ऐसा जीवन ना आए दोबारा,
महादेव महादेव महादेव महादेव,
महादेव महादेव महादेव महादेव।।



मेरे शंकर सा देव नही दूजा रे,

सबसे पहले तुम्हारी पूजा रे,
मेरे शंकर सा दैव नहीं दूजा रे,
सबसे पहले तुम्हारी पूजा रे,
महादेव महादेव महादेव महादेव,
महादेव महादेव महादेव महादेव।।

गायक – लक्ष्मीनारायण कुमावत।
इंदौर – 9926025633


Published

Leave a comment

Your email address will not be published.