बाबा शिव के कावड़िया भजन लिरिक्स

बाबा शिव के कावड़िया भजन लिरिक्स



बम बम भोले बोले,
बाबा शिव के कावड़िया,
काँधे सजी है,
गंगा जल की गगरिया,
दिन रात चले ये,
मिल के साथ चले ये,
शिव के बावरिया बावरिया,
बम बम भोले बोले,
बाबा शिव के कावडिया।।

तर्ज – कौन दिशा में।



सब देवों में देव महादेव,

भक्तो के दुखहारी है,
करते कृपा सब दीन हिन पर,
भोले जी सुखकारी है,
मांग के देखो जिसने भी जो कुछ,
माँगा वो पाया हर बार हो,
बम बम भोले बोले,
बाबा शिव के कावडिया।।



शिव भक्तो के होंठों पे रहता,

बम बम का जयघोष हो,
झूमे नाचे मौज मनावे,
शिव भक्ति का है जोश हो,
तन में शिव है मन में शिव है,
शिव की ही मन में लिए आस हो,
बम बम भोले बोले,
बाबा शिव के कावडिया।।



भोले के भक्तो का ये टोला,

निकले शहर और गाँव से,
नर नारी मिल करते है सेवा,
कांटे भी खींचे वाके पाँव से,
भोले के रूप में शुद्ध स्वरुप में,
इनको है बड़ा विश्वास हो,
बम बम भोले बोले,
FreeLyrics.in,
बाबा शिव के कावडिया।।



बम बम भोले बोले,

बाबा शिव के कावड़िया,
काँधे सजी है,
गंगा जल की गगरिया,
दिन रात चले ये,
मिल के साथ चले ये,
शिव के बावरिया बावरिया,
बम बम भोले बोले,
बाबा शिव के कावडिया।।

Singer – Ashish Chandra Shastri


Published

Leave a comment

Your email address will not be published.