धोखा Dhokha Hindi Lyrics – Arijit Singh

धोखा Dhokha Hindi Lyrics – Arijit Singh

Dhokha Lyrics in Hindi

दिल से चाहने की मुझे
साज़ा देटे हो
मैं रोता हूं और तुम
माज़ा लेटे हो

तेरी शिकायत कर दूं
तुझको गले लगा कर
तेरी शिकायत कर दूं
तुझको गले लगा कर

तेरी गलतियों को फिरसे
जाऊं तुझको समझा कर

मैं जा रहा हूं दूर
तुम ना आवाज दोगी क्या
मैं जा रहा हूं दूर
तुम ना आवाज दोगी क्या

तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या
तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या

जब दिल में दुआ नहीं है
नमाज़ दोगी क्या
जब दिल में दुआ नहीं है
नमाज़ दोगी क्या

तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या
तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या

तुने जिस तरह से लुटा
आहट भी ना होने दी
हा तुने जिस तरह से लूटा
आहट भी ना होने दी

मुझे अपना नशा कराया
और आदत भी ना होने दी
मुझे अपना नशा कराया
और आदत भी ना होने दी

कितना लूटा है तुमने
तुम हिसाब दोगी क्या
कितना लूटा है तुमने
तुम हिसाब दोगी क्या

तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या
तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या

कैसे छोड़ू मैं तुमको
तुम जवाब दोगी क्या
कैसे छोड़ू मैं तुमको
तुम जवाब दोगी क्या

तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या
तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या

हां कितने खंजर पीठ पे मेरी
गिन कर तो बताओ
ध्यान से गिन ना बेवफा
कहीं गिनती ना भूल जाओ

देखना है गम को तुम
मेरे दिल के अंदर आओ
चौक ना मत जब अंदर तुम
अपनी तस्वीर पाओ

जला दूं जो तसवीर तेरी
उदासी होगी क्या
जला दूं जो तसवीर तेरी
उदासी होगी क्या

तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या
तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या

जब दिल में दुआ नहीं है
नमाज़ दोगी क्या
जब दिल में दुआ नहीं है
नमाज़ दोगी क्या

तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या
तेरा नाम धोखा रख दूं
नाराज़ होगी क्या

कहानी बुरी नहीं थी इश्क की मेरे
बस तेरे जैसे कुछ किरदार
दोखेबाज़ निकले.

Leave a comment

Your email address will not be published.