तूने मेरा नसीबा बनाया कि सांवरा कमाल करता लिरिक्स

Bhajan Diary

तूने मेरा नसीबा बनाया,
है रोते को हंसाया,
कि सांवरा कमाल करता,
कि सांवरा कमाल करता,
मेरा गुलशन तूने महकाया,
दीवाना है बनाया,
कि सांवरा कमाल करता,
कि सांवरा कमाल करता।।



दिया तूने श्याम मेरे,

जो ना औकात थी,
किया तूने प्यार मुझे,
क्या सौगात दी,
तूने नज़दीक मुझको बिठाया,
है सीने से लगाया,
कि सांवरा कमाल करता,
कि सांवरा कमाल करता।।



तेरी वजह से मेरी,

हस्ती है ज़िंदा,
शान से जीता है,
श्याम का बन्दा,
सारे संकट से मुझको बचाया,
फलक पे बिठाया,
कि सांवरा कमाल करता,
कि सांवरा कमाल करता।।



जिसपे जादू चलता है,

श्याम सरकार का,
हो जाता है,
वही इस दरबार का,
‘राजू’ श्याम से प्रेम जो बढ़ाया,
सदा ही मुस्कुराया,
कि सांवरा कमाल करता,
कि सांवरा कमाल करता।।



तूने मेरा नसीबा बनाया,

है रोते को हंसाया,
कि सांवरा कमाल करता,
कि सांवरा कमाल करता,
मेरा गुलशन तूने महकाया,
दीवाना है बनाया,
कि सांवरा कमाल करता,
कि सांवरा कमाल करता।।

Singer – Sakshi Agarwal


Published

Leave a comment

Your email address will not be published.