जज़ाक अल्लाह Jazaak Allah Lyrics in Hindi – Lyrics in Hindi



जज़ाक अल्लाह Jazaak Allah Lyrics in Hindi

Jazaak Allah Lyrics in Hindi

 जजाक अल्लाह जजाक अल्लाह

मुश्क़िल के जो पल में कोई दुआओं का दे सिला
तो दिल बोले जज़ाक अल्लाह
हो कैसी भी अज़ीयत में
हमको रहे ना कोई गिला
तो दिल बोले जज़ाक अल्लाह

खुशियों का कोई जरिया जो बने
सेहराओं में जैसे दरिया वो बने
अल्लाह हमको ज़र्फ़ दे और दे जज़ा

जज़ाक अल्लाह, खैर रहे सब पे
जज़ाक अल्लाह, गैर बने अपने
नीयत से ही जुड़ा, रेहमत का रास्ता

जज़ाक अल्लाह, खैर रहे सब पे
जज़ाक अल्लाह, गैर बने अपने
ज़ेहमत उठा ज़रा, नेकी का वास्ता

सजदा करूँ तेरा ओ रब उल अल्लामिन
तू फ़रमायेगा करम हमको है यक़ीन
सजदा करूँ तेरा ओ रब उल अल्लामिन
कर देगा तू करम मुझ को है यक़ीन

अल्लाह , अल्लाह

तेरी कुदरत या करीम, तेरी अज़मत या रहीम
मिन्नतों को ख्वाहिशों को कर मुक़म्मल या अज़ीम

जज़ाक अल्लाह, खैर रहे सब पे
जज़ाक अल्लाह, गैर बने अपने
नीयत से ही जुड़ा, रेहमत का रास्ता

जज़ाक अल्लाह, खैर रहे सब पे
जज़ाक अल्लाह, गैर बने अपने
ज़ेहमत उठा ज़रा, नबी का वास्ता

बेह्ते इन अश्क़ों को
कोई तो रोकदे लिल्लाह
तो दिल बोले जज़ाक अल्लाह

खुशियों का कोई जरिया जो बने
सेहराओं में जैसे दरिया वो बने
अल्लाह हमको ज़र्फ़ दे और दे जज़ा
जज़ाक अल्लाह

जज़ाक अल्लाह, खैर रहे सब पे
जज़ाक अल्लाह, गैर बने अपने
नीयत से ही जुड़ा, रेहमत का रास्ता

जज़ाक अल्लाह, खैर रहे सब पे
जज़ाक अल्लाह, गैर बने अपने
ज़ेहमत उठा ज़रा, नेकी का वास्ता

जज़ाक अल्लाह, खैर रहे सब पे
जज़ाक अल्लाह, गैर बने अपने
ज़ेहमत उठा ज़रा, नबी का वास्ता

Published

Leave a comment

Your email address will not be published.