खाटू के मंदिर में बैठा देव निराला भजन लिरिक्स

Bhajan Diary

खाटू के मंदिर में बैठा देव निराला,

दोहा – तू ही फलक है सितारा है तू,
अंधेरो में रोशन नज़ारा है तू,
हमें नाज़ तुझ पर हमारा है तू,
हारे हुओ का सहारा है तू।



खाटू के मंदिर में बैठा देव निराला,

रखवाला रखवाला सबका रखवाला,
दुखियों के ये दुखड़े हरता,
अहिलवती का लाला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला,
खाटू के मंदिर मे बैठा देव निराला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला।।

तर्ज – दिल में आग लगाए।



दुनिया ने ठुकराया जब जब,

हाथ मेरा इसने थामा तब तब,
बाँहों में भरकर के गिरने से संभाला
रखवाला रखवाला सबकर रखवाला,
खाटू के मंदिर मे बैठा देव निराला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला।।



मुश्किल चाहे जितनी बड़ी हो,

साथ में बस मेरा श्याम धणी हो,
माझी बन भक्तों की नाव चलाने वाला,
रखवाला रखवाला सबकर रखवाला,
खाटू के मंदिर मे बैठा देव निराला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला।।



हार के जो आया इस दर पे,

पल में रंक से राजा कर दे,
श्याम ने अपने प्रेमी को कभी ना दर से टाला,
रखवाला रखवाला सबकर रखवाला,
खाटू के मंदिर मे बैठा देव निराला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला।।



श्याम नाम आधार है जिनका,

श्याम सहायक बनता उनका,
परछाई बन ‘दीपक’ संग चलता खाटू वाला,
रखवाला रखवाला सबकर रखवाला,
खाटू के मंदिर मे बैठा देव निराला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला।।



खाटू के मंदिर मे बैठा देव निराला,

रखवाला रखवाला सबका रखवाला,
दुखियों के ये दुखड़े हरता,
अहिलवती का लाला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला,
खाटू के मंदिर मे बैठा देव निराला,
रखवाला रखवाला सबका रखवाला।।

Singer / Writer – Kumar Deepak


Published

Leave a comment

Your email address will not be published.