ओ पंछी प्यारे – O Panchhi Pyare Lyrics in Hindi – Lyrics in Hindi

ओ पंछी प्यारे – O Panchhi Pyare Lyrics in Hindi

दो नैनन से मिलन को
दो नैना अकुलाएँ
जब नैना हो सामने
तो नैना झुक जाएँ

ओ पंछी प्यारे, सांझ सकारे
बोले तू कौन सी बोली, बता रे
बोले तू कौन सी बोली
ओ पंछी प्यारे…

मैं तो पंछी, पिंजरे की मैना
पंख मेरे बेकार
बीच हमारे सात रे सागर
कैसे चलूँ उस पार
कैसे चलूँ उस पार
ओ पंछी प्यारे…

फागुन महीना फूली बगिया
आम झरे अमराई
मैं खिड़की से चुप-चुप देखूँ
ऋतु बसंत की आई
ऋतु बसंत की आई
ओ पंछी प्यारे…

Published

Leave a comment

Your email address will not be published.