इनकी महिमा निराली है लिरिक्स | Inki Mahima Nirali Hai Lyrics

Inki Mahima Nirali Hai Lyrics

पवन पुत्र हनुमान जी का अति पावन भजन “इनकी महिमा निराली है लिरिक्स | Inki Mahima Nirali Hai Lyrics” – मयंक गुप्ता जी के द्वारा गाया गया है। इस भजन में श्रीराम के सबसे बड़े भक्त हनुमान जी की राम भक्ति बताया गया है।


Inki Mahima Nirali Hai Lyrics

जय सियाराम ….जय जय सियाराम,
जड़ से पहाड़ों को डाले उखाड़ ।
थर्राते त्रिभुवन जब मारे दहाड़,
बड़े बलशाली हैं बाबा बजरंग बली ।।

इनकी महिमा निराली है बाबा बजरंगी बली ।।

भूत प्रेत कांपे नाम सुनते महावीर का जब,
दम दानवो के निकलते याद आती है, रणधीर की जब ।
लाल ही तन लाल बदन लाली भी निराली है, बाबा बजरंग बली
इनकी महिमा निराली है बाबा बजरंगी बली ।।

दे मुद्रिका माँ सिया को शोक मोह सारा, उनका निबारा,
फल खाये उपवन उजाड़ा दुष्ट अक्षय, पटक कर के मारा ।
लंका जला अंजनी लाला पूँछ जल में बुझा ली है,
इनकी महिमा निराली है बाबा बजरंगी बली ।।

संजीवनी संग पूरा द्रोणागिरी उठाकर के लाये,
लंका से ला बैध जी को प्राण भ्रातः लखन के बचाये ।
सियाराम मन में देख लो छाती चीर डाली है,
इनकी महिमा निराली है बाबा बजरंगी बली ।।

राम सब काम करते सब, जिएं राम के ही सहारे
पर आपने तो है हनुमत काम, सब राम के भी सँवारे ।
खाली कोई लौटा नहीं, दर का सवाली है
इनकी महिमा निराली है, बाबा बजरंगी बली ।।

भक्त वत्सल दीनानाथ हनुमंत, दीन बंधू दया चाहता है,
चरणों का चेला मयंक है, कृपा भिक्षा सदा माँगता है ।
सरकार के दरबार से कोई जाता ना खाली है,
इनकी महिमा निराली है, बाबा बजरंगी बली ।।


हमें उम्मीद है की श्री राम के भक्त हनुमान जी ये भजन का यह आर्टिकल “इनकी महिमा निराली है लिरिक्स | Inki Mahima Nirali Hai Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Inki Mahima Nirali Hai Lyrics ” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए FreeLyrics.in पर visit करे।

Published

Leave a comment

Your email address will not be published.